बिग ब्रेकिंग : कांग्रेस के स्थापना दिवस पर यूपी पुलिस ने कई जिलों में कांग्रेस संदेश यात्रा रोकी

लखनऊ, 28 दिसंबर 2020. स्थापना दिवस पर कांग्रेस हर विधानसभा में कर रही है कांग्रेस संदेश पदयात्रा कई जिलों में गिरफ्तारियों का दौर जारी,हिरासत में लिए जा रहे हैं कांग्रेस के नेता ग़ाज़ीपुर, जौनपुर, इलाहाबाद, गौतमबुद्ध नगर समेत कई जिलों में पदयात्रियों की गिरफ्तारी गोरखपुर, हापुड़, आज़मगढ़, बस्ती समेत कई जिलों की विधानसभाओं पुलिस की …
 | 
बिग ब्रेकिंग : कांग्रेस के स्थापना दिवस पर यूपी पुलिस ने कई जिलों में कांग्रेस संदेश यात्रा रोकी

लखनऊ, 28 दिसंबर 2020. स्थापना दिवस पर कांग्रेस हर विधानसभा में कर रही है कांग्रेस संदेश पदयात्रा

कई जिलों में गिरफ्तारियों का दौर जारी,हिरासत में लिए जा रहे हैं कांग्रेस के नेता

ग़ाज़ीपुर, जौनपुर, इलाहाबाद, गौतमबुद्ध नगर समेत कई जिलों में पदयात्रियों की गिरफ्तारी

गोरखपुर, हापुड़, आज़मगढ़, बस्ती समेत कई जिलों की विधानसभाओं पुलिस की नाकेबंदी के बावजूद निकली पदयात्रा

जगह जगह पुलिस ने किया बल प्रयोग, तीन दिवसीय पदयात्रा को रोकने की कोशिश

कांग्रेस के स्थापना दिवस कार्यक्रम को यूपी सरकार की पुलिस ने रोका।

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी को माल्यार्पण तक नहीं करने दिया गया।

प्रदेश कार्यालय से निकल रही थी कांग्रेस संदेश यात्रा।

पदयात्रा रोके जाने पर प्रदेश अध्यक्ष समेत कई नेता प्रदेश कार्यालय पर उपवास पर बैठे।

कांग्रेस मुख्यालय पर उपवास पर बैठे अजय लल्लू।

प्रियंका गांधी ने किया ट्वीट

“कांग्रेस पार्टी की नसों में आजादी आन्दोलन एवं किसानों-मजदूरों के आन्दोलन का रक्त बहता है।

हमारे स्थापना दिवस पर यूपी में हमें महापुरुषों का माल्यार्पण करने, संदेश यात्रा निकालने से रोका जा रहा है। नेताओं कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार, नजरबंद किया जा रहा है।

ये लोकतंत्र की हत्या है।“

पाठकों से अपील

Donate to Hastakshep

नोट - 'हस्तक्षेप' जनसुनवाई का मंच है। हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे।

OR

भारत से बाहर के साथी Pay Pal के जरिए सब्सक्रिप्शन ले सकते हैं।

Subscription