यहूदियों को विश्व शांति को खतरे में डालने से रोकने के लिए गुटनिरपेक्ष देशों की आपात बैठक की मांग

NAM countries urged to convene urgent meet to block Zionist plot to endanger world peace जम्मू तवी (जम्मू-कश्मीर), 27 दिसंबर, 2019. नेशनल पैंथर्स पार्टी के नेताओं, गुटनिरपेक्ष आंदोलन और लीगल एड कमेटी की जम्मू तवी में एक आपात बैठक हुई, जिसमें इजरायल में यहूदी आंदोलन के खतरनाक प्लाट से होने वाले खतरे की समीक्षा (Review of …
 | 
यहूदियों को विश्व शांति को खतरे में डालने से रोकने के लिए गुटनिरपेक्ष देशों की आपात बैठक की मांग

NAM countries urged to convene urgent meet to block Zionist plot to endanger world peace

जम्मू तवी (जम्मू-कश्मीर), 27 दिसंबर, 2019. नेशनल पैंथर्स पार्टी के नेताओं, गुटनिरपेक्ष आंदोलन और लीगल एड कमेटी की जम्मू तवी में एक आपात बैठक हुई, जिसमें इजरायल में यहूदी आंदोलन के खतरनाक प्लाट से होने वाले खतरे की समीक्षा (Review of the threat from the dangerous plot of the Jewish movement in Israel) की गयी, ताकि दुनिया को तीसरे विश्वयुद्ध से बचाया जा सके। यह प्लाट एंग्लो-अमेरिकन ब्लाक की मदद से यहूदी राज्य इजरायल फिलस्तीन में इस्तेमाल करना चाहता है, ताकि अरब दुनिया के राजनीतिक व भौगोलिक मानचित्र में फेरबदल किया जा सके।

नेशनल पैंथर्स पार्टी के मुख्य संरक्षक एवं गुटनिरपेक्ष आंदोलन के संयोजक प्रो. भीम सिंह ने सभी गुटनिरपेक्ष देशों से एक आपात बैठक बुलाने की अपील की, क्योंकि इजरायली प्रधानमंत्री श्री बेंजामिन नेतनयाहू ने यह घोषणा की है कि इजरायल जोर्डन घाटी पर कब्जे करके इसे इजरायल के साथ जोड़ेगा, जिसने अरब दुनिया में विस्फोट स्थिति पैदा कर दी है।

Israeli Prime Minister’s announcement is a threat to world peace

इजरायली प्रधानमंत्री की यह घोषणा विश्व शांति के लिए एक धमकी है, क्योंकि ये राष्ट्रसंघ के सदस्य जोर्डन को मिटाने के बराबर है, जो अरब दुनिया का एक स्वतंत्र और सम्प्रभु देश है। प्रो.भीमंिसह ने इजरायल पर सुरक्षा परिषद के प्रस्तावों के उल्लंघन का आरोप लगाया, जिसने फिलस्तीन के आधे हिस्से पर गैरकानूनी कब्जा कर रखा है, जिसके परिणामस्वरूप फिलस्तीन के पांच लाख लोग शरणार्थी बन गये हैं। फिलस्तीन मामलों के जानकार पैंथर्स सुप्रीमो ने फिलस्तीन पर एक पुस्तक भी लिखी है, जिसे कुवैत सरकार ने 1969 में प्रकाशित किया था।

प्रो.भीम सिंह ने भारत के राष्ट्रपति से भारत सरकार के साथ एक बैठक करने का अनुरोध किया, जिसमें भारत सरकार को अन्तर्राष्ट्रीय राय लेकर गुटनिरपेक्ष आंदोलन देशों की एक आपात बैठक बुलाने के लिए तैयार किया जा सके।

पाठकों से अपील

Donate to Hastakshep

नोट - 'हस्तक्षेप' जनसुनवाई का मंच है। हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे।

OR

भारत से बाहर के साथी Pay Pal के जरिए सब्सक्रिप्शन ले सकते हैं।

Subscription