“द राफा नडाल ओपन” : राफेल नडाल ने की नए टेनिस टूर्नामेंट की घोषणा

“द राफा नडाल ओपन” : राफेल नडाल ने की नए टेनिस टूर्नामेंट की घोषणा प्रतिस्पर्द्धा के लिए खेलता हूं : राफेल नडाल नई दिल्ली, 26 जुलाई। विश्व के नंबर-1 टेनिस खिलाड़ी स्पेन के राफेल नडाल ने कहा है कि वह अपने पूरे करियर में हर मैच जीतने के लिए नहीं, बल्कि प्रतिस्पर्द्धा के लिए जीते …
 | 
“द राफा नडाल ओपन” : राफेल नडाल ने की नए टेनिस टूर्नामेंट की घोषणा

द राफा नडाल ओपन” : राफेल नडाल ने की नए टेनिस टूर्नामेंट की घोषणा

प्रतिस्पर्द्धा के लिए खेलता हूं : राफेल नडाल

 नई दिल्ली, 26 जुलाई। विश्व के नंबर-1 टेनिस खिलाड़ी स्पेन के राफेल नडाल ने कहा है कि वह अपने पूरे करियर में हर मैच जीतने के लिए नहीं, बल्कि प्रतिस्पर्द्धा के लिए जीते हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स में समाचार एजेंसी एफे के हवाले से कहा गया है कि, 17 बार के ग्रैंड स्लैम खिताब विजेता नडाल ने बुधवार को अपने नाम से नए टेनिस टूर्नामेंट की घोषणा की। इस टूर्नामेंट का नाम द राफा नडाल ओपन रखा गया जो एटीपी चैलेंजर का हिस्सा है। यह टूर्नामेंट 25 अगस्त से दो सितंबर के बीच खेला जाएगा।

नडाल ने कहा,

“मेरा लक्ष्य हमेशा से हर मैच जीतना नहीं रहा है। मैं हर सप्ताह प्रतिस्पर्द्धी रहना चाहता हूं और अगर जीत गया तो बेहतर है।”

खुशी मिलती है अच्छी प्रतिस्पर्द्धा करने से

उन्होंने कहा,

“करियर के इस पड़ाव पर खेल में जीत काफी कुछ है, लेकिन अच्छे स्तर पर अच्छी प्रतिस्पर्द्धा करने से मुझे खुशी मिलती है।”

नडाल ने कहा है कि यह हैरत की बात है कि वह 30 साल के होने के बाद भी पहले स्थान पर हैं, रोजर फेडरर 36 साल के हैं और दूसरे पर हैं, नोवाक जोकोविक 31 साल के हैं।

उन्होंने कहा,

“तीन खिलाड़ी क्यों दबदबा बनाए हुए हैं इसके दो कारण हो सकते हैं। या तो हम विशेष हैं या आने वाले खिलाड़ी उतने अच्छे नहीं हैं। मैं नहीं कह सकता कि कौन सही है।”

Topics – The Rafa Nadal Open, Rafael Nadal, Tennis Tournament,

पाठकों से अपील

Donate to Hastakshep

नोट - 'हस्तक्षेप' जनसुनवाई का मंच है। हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे।

OR

भारत से बाहर के साथी Pay Pal के जरिए सब्सक्रिप्शन ले सकते हैं।

Subscription