370 : मोदी सरकार के समर्थन में आगे आए अवार्ड वापसी गैंग के मुखिया

नई दिल्ली, 05 अगस्त। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज खुश तो बहुत होंगे, क्योंकि अनुच्छेद 370 के मसले पर उन्हें अवार्ड वापसी गैंग के अगुआ साहित्यकार का खुला समर्थन मिल गया है। लेखकों की हत्या पर साहित्य अकादमी पुरस्कार लौटाकर इसे मुहिम बनाने वाले साहित्यकार उदय प्रकाश खुलकर मोदी सरकार के समर्थन में आ गए हैं। …
 | 
370 : मोदी सरकार के समर्थन में आगे आए अवार्ड वापसी गैंग के मुखिया

नई दिल्ली, 05 अगस्त। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज खुश तो बहुत होंगे, क्योंकि अनुच्छेद 370 के मसले पर उन्हें अवार्ड वापसी गैंग के अगुआ साहित्यकार का खुला समर्थन मिल गया है।

लेखकों की हत्या पर साहित्य अकादमी पुरस्कार लौटाकर इसे मुहिम बनाने वाले साहित्यकार उदय प्रकाश खुलकर मोदी सरकार के समर्थन में आ गए हैं। उन्होंने अपनी एफबी टाइमलाइन पर जो लिखा आप भी पढ़ें –

“कई तरह की व्याख्याएँ होंगी, भविष्य को लेकर कई तरह की अटकलें लगेंगी और बहसें होंगी, लेकिन आज की तारीख़ (५ अगस्त २०१९) इतिहास में दर्ज तो हो ही गयी।

यह काग़ज़ के पन्नों पर नहीं, इस उपमहाद्वीप के भूगोल पर उकेरा गया वर्तमान है, जो अब आने वाले भविष्य के हर पल के साथ इतिहास बनता जा रहा है।

धरती का स्वर्ग कहा जाने वाला कश्मीर आज के दिन भारत का अभिन्न हिस्सा बन गया, अब उस स्वर्ग या जन्नत के फ़रिश्ते भी देश के सामान्य नागरिकों के अविभाज्य अंग बन कर उसमें घुलमिल जायं, इससे अधिक और क्या कामना हो सकती है ?

अब जम्मू-कश्मीर समेत समूचे देश की जनता के मूलभूत संवैधानिक नागरिक अधिकार समान और एक हो गये हैं।

अब हमारे संघर्ष और उपलब्धियाँ, जय और पराजय भी एक ही होंगे।“

पाठकों से अपील

Donate to Hastakshep

नोट - 'हस्तक्षेप' जनसुनवाई का मंच है। हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे।

OR

भारत से बाहर के साथी Pay Pal के जरिए सब्सक्रिप्शन ले सकते हैं।

Subscription