जानिए डोपामाइन क्या है और इसके लिए क्या जिम्मेदार है?

आपने अक्सर डोपामाइन का नाम सुना होगा तो आइए आज आपको बताते हैं कि डोपामाइन क्या है और इसके लिए क्या जिम्मेदार है? (What is dopamine and what is it responsible for?) और क्या डोपामाइन आपको खुश करता है? (Does dopamine make you happy?) डोपामाइन, सेरोटोनिन (serotonin), ऑक्सीटोसिन (oxytocin) और एंडोर्फिन (endorphins) हमारी खुशी के …
 | 
जानिए डोपामाइन क्या है और इसके लिए क्या जिम्मेदार है?

आपने अक्सर डोपामाइन का नाम सुना होगा तो आइए आज आपको बताते हैं कि डोपामाइन क्या है और इसके लिए क्या जिम्मेदार है? (What is dopamine and what is it responsible for?) और क्या डोपामाइन आपको खुश करता है? (Does dopamine make you happy?)

डोपामाइन, सेरोटोनिन (serotonin), ऑक्सीटोसिन (oxytocin) और एंडोर्फिन (endorphins) हमारी खुशी के लिए जिम्मेदार चौकड़ी मानी जाती हैं।

पहले वैज्ञानिक सोचते थे कि ड्रग्स लेने के दौरान न्यूरोट्रांसमीटर डोपामाइन का प्रवाह उच्च उल्लासोन्माद { feeling of euphoria (the “high”) } पैदा करता है, लेकिन अब जो तथ्य सामने आ रहे हैं उनसे लगता है कि यह इस प्रस्थापना से कहीं अधिक जटिल है।

यूएस सरकार के स्वास्थ्य विभाग से संबद्ध राष्ट्रीय स्वास्थ्य संस्थान (National Institutes of Health) के अंग नेशनल इंस्टीट्यूट ऑन ड्रग एब्यूज़ National Institute on Drug Abuse (NIDA), पर एक ब्लॉग में दी गई जानकारी के मुताबिक डोपामाइन को कभी-कभी मस्तिष्क का “आनंद रसायन” (brain’s “pleasure chemical.”) कहा जाता था। अब हम इसे शिक्षण रसायन (teaching chemical) की तरह जानते हैं।

What causes pleasure in the brain is still a bit of a mystery.

मस्तिष्क में आनंद का क्या कारण अभी भी एक रहस्य है। लेकिन मस्तिष्क का “रिवार्ड सर्किट” (brain’s “reward circuit”) डोपामाइन को उन चीज़ों की प्रतिक्रिया के रूप में जारी करता है जो आनंददायक हैं, जैसे कि अच्छा व्यवहार करना, दोस्तों के साथ हँसना या आकर्षक गीत सुनना। डोपामाइन के उस उछाल के कारण, मस्तिष्क इन पुरस्कारों को याद करता है और उन्हें फिर से बाहर निकालने के लिए और ड्रग्स लेने की इच्छा को जाग्रत करता है। दुष्प्रयोग की अधिकांश ड्रग्स (जैसे निकोटीन, कोकीन, या मारिजुआना) मस्तिष्क की इस इनाम सर्किट को प्रभावित करती हैं। वे मस्तिष्क प्रणाली का नियंत्रण ले सकती हैं, जिससे मस्तिष्क बड़ी मात्रा में डोपामाइन जारी करता है।

इसलिए, जो लोग बार-बार ड्रग्स का उपयोग करते हैं, उनके वातावरण में मौजूद चीजें डोपामाइन के प्रवाह को ट्रिगर कर सकती हैं, और अधिक ड्रग्स लेने के लिए मस्तिष्क में कुलबुलाहट पैदा कर सकती हैं। बार-बार नशीली दवाओं के उपयोग के साथ, मस्तिष्क मुख्य रूप से दवा से जुड़ी चीजों के उत्तर में डोपामाइन जारी करता है।

तो, डोपामाइन उच्च उल्लासोन्माद की भावना का कारण नहीं है; इसके बजाय, यह ड्रग्स का उपयोग करने की इच्छा को प्रबल बनाता है।

नोट – यह समाचार किसी भी हालत में चिकित्सकीय परामर्श नहीं है। यह समाचारों में उपलब्ध सामग्री के अध्ययन के आधार पर जागरूकता के उद्देश्य से तैयार की गई अव्यावसायिक रिपोर्ट मात्र है। आप इस समाचार के आधार पर कोई निर्णय कतई नहीं ले सकते। स्वयं डॉक्टर न बनें किसी योग्य चिकित्सक से सलाह लें।)

Dopamine in Hindi, Drugs & Health Blog, Drugs and Your Brain,

पाठकों से अपील

Donate to Hastakshep

नोट - 'हस्तक्षेप' जनसुनवाई का मंच है। हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे।

OR

भारत से बाहर के साथी Pay Pal के जरिए सब्सक्रिप्शन ले सकते हैं।

Subscription