खेती किसानी नहीं, देश की जनता खतरे में है… भक्त अवश्य सुनें

देश की खाद्यान्न सुरक्षा खतरे में है किसान सभा, एपीएमसी एक्ट, एमएसपी क्या है, नए कृषि कानून, किसान आंदोलन, खेती किसानी खतरे में नहीं है, देश की जनता खतरे में है किसान सभा के संयुक्त सचिव बादल सरोज ने सरल भाषा में समझाया किसान आंदोलन क्यों कर रहे हैं, एपीएमसी एक्ट क्या है, खेती-किसानी की …
 | 
खेती किसानी नहीं, देश की जनता खतरे में है… भक्त अवश्य सुनें

देश की खाद्यान्न सुरक्षा खतरे में है

किसान सभा, एपीएमसी एक्ट, एमएसपी क्या है, नए कृषि कानून, किसान आंदोलन,

खेती किसानी खतरे में नहीं है, देश की जनता खतरे में है

किसान सभा के संयुक्त सचिव बादल सरोज ने सरल भाषा में समझाया किसान आंदोलन क्यों कर रहे हैं, एपीएमसी एक्ट क्या है, खेती-किसानी की समस्याएं क्या हैं ? क्या ये केवल किसानों का मसला है ? नए कृषि कानूनों से क्या होगा देश की जनता पर असर ?

नरेंद्र मोदी किसान विरोधी नारे के साथ यह लड़ाई जारी रहेगी।

Badal Saroj, joint secretary of Kisan Sabha explained in simple language why farmers are agitating, what is APMC Act, what are the problems of farming? Is this only a matter of farmers? What will be the effect on the people of the country from the new agricultural laws?

किसान इतिहास रच रहा है। कॉरपोरेट को दोषी ठहराने का साहस दिखाने का इतिहास रच रहा है।

पाठकों से अपील

Donate to Hastakshep

नोट - 'हस्तक्षेप' जनसुनवाई का मंच है। हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे।

OR

भारत से बाहर के साथी Pay Pal के जरिए सब्सक्रिप्शन ले सकते हैं।

Subscription